Urja Bachao Essay In Hindi

अपडेट: प्रतियोगिता की अंतिम तारीख १५ अक्टूबर २०१७ तक बधाई गयी है| पीसीआरए – पेट्रोलियम कंज़र्वेशन रिसर्च एसोसिएशन ने स्कूल के छात्रों के लिए एक राष्ट्रीय स्तर की निबंध, पेंटिंग और क्विज़ प्रतियोगिता आयोजित की है। इस प्रतियोगिता का उद्देश्य छात्रों के बीच ईंधन संरक्षण की जागरूकता फैलाना है। स्कूली छात्रों के लिए देश के निर्माण में भाग लेने के लिए यह एक बढ़िया अवसर है और निबंध, पेटिंग और क्विज़ प्रतियोगिता जितनेवाले विद्यार्थियोंको अद्भुत पुरस्कार से नवाजा जाएगा| २७ छात्र सिंगापुर की यात्रा कर सकते हैं, लैपटॉप, टेबलेट, और कॅश इनाम भी रखा है| प्रतियोगिता के लिए विषय है “Small steps of fuel conservation can make a big change” और हिंदी में यह है “ईंधन संरक्षण का दिशा में छोटे छोटे कदम एक बड़ा परिवर्तन लाए जा सकता है”|

सेंट्रल और स्टेट बोर्ड ऑफ इंडिया द्वारा मान्यता प्राप्त विद्यालयों के ही ७,८,९ और १०वी कक्षाओंके छात्र इस प्रतियोगिता में भाग ले सकते हैं। निबंध को ७०० शब्दों से अधिक नहीं होना चाहिए और उसे अपनी स्वयं की हस्तलेखन में प्रस्तुत करना होगा। प्रतियोगिता के बारे में अधिक चीजें जानने के लिए नीचे दिए गए टिप्स अनुभाग देखें|

ईंधन संरक्षण का दिशा में छोटे छोटे कदम एक बड़ा परिवर्तन लाए जा सकता है – हिंदी निबंध ७०० शब्द

अगर ईंधन एक दिन अचानक पूरा ख़तम हुआ तो|

सोच कर ही डर लगता है, ना? अगर हम ईंधन का इसी तरह शोषण करते रहे, उसका उपभोग करते रहें तो एकदिन यह दुनिया की वास्तविकता हो सकती है,। जीवाश्म ईंधन एक दुर्लभ वस्तु है, यह हमेशा के लिए नहीं रहेगी| अगले १०० साल में पूरी दुनिया का जीवाश्म ईंधन ख़तम हो सकता है| हमारी आजकी जीवन शैली, कारोबार, फैक्टरी ईंधन पर बुरी तरह निर्भर है|

सीपेक देश तेल का भाव निर्धारित करते करते है| हालांकि पिछले साल कीमतों में गिरावट आई है, लेकिन ईंधन की कीमते हमेशासेही ज्यादा रहीं है। हमें ईंधन संरक्षण के नए नए प्रकार ढूडने होंगे, समान्य लोगोंको जागृत करना होगा, साथही हमें नवीकरणीय और वैकल्पिक ऊर्जा संसाधनों को खोजने की आवश्यकता है। यहां दिए हुए तरीकोंसे हम ईंधन और हमारे पैसे भी बचा सकते हैं।

जब स्कूल बस, रिक्शा दरवाजे के बाहर हमारे लिए इंतजार करते हैं, तब वे ईंधन जलाते रहते हैं। अगर हम समय पर तैयार हो जाते हैं और कुछ मिनट पहले वाहन के लिए इंतजार करते हैं तो आपका यह छोटासा कदम ईंधन बचाएगा। निष्क्रिय वाहन ईंधन खपाते रहते है, भारत में, कोई भी वाहन चालक सिग्नल या रेलवे क्रॉसिंग पैन इंजन बंद करना पसंद नहीं करता, विद्यानिक आकड़े दिखाते है की अगर आप ३० सेकंड से ज्यादा गाडी रोकने वाले हे तो इंजन बंद करना एक उचित पर्याय है, गाडी फिरसे चालू करनेके लिए उससे कम ईंधन लगेगा| हमे यह जानकारी सभी चालकोंतक पोहचानी होगी|

आजकल हर किसी के पास एक मोटरबाइक या कार है, जो हमें गतिशीलता तो प्रदान करता है लेकिन व्यक्तिगत ईंधन खर्च में बढ़ोतरी की कीमत पर। अगर हम सार्वजनिक परिवहन का उपयोग करते हैं, या कारपूलिंग का उपयोग करते है तो अधिक लोग एक ही वाहन में यात्रा कर सकते हैं। ओला, उबर जैसी उभरती कंपनियां कार साझाकरण (शेयरिंग) पर छूट प्रदान कराती है, हमें ऐसे ऑफ़र का लाभ उठाना चाहिए। हम हमारे दैनिक आवागमन के लिए एक हाइब्रिड, सौर या बैटरी चालित वाहनों का उपयोग भी कर सकते हैं, इससे ईंधन की बचत होगी और पैसे भी बचेंगे। टेस्ला एक बड़ी अमेरिकन कार कंपनी है जो इलेक्ट्रिक कार के लिए जाने जाते हैं। भारत में, हमें इस क्षेत्र में अनुसंधान और विकास को बढ़ावा देने या फिर प्रौद्योगिकी हस्तांतरण की आवश्यकता है। गत साल हुई पी.एम. मोदी और एलोन मस्क की मुलाक़ात से इस मामले में कुछ अवसर आ सकते हैं।

ऍमस्टरडैम के लोग अपनी साइकिल से बहोत प्यार करते हैं, टोक्यो भी इस मॉडल को दोहराने की कोशिश कर रहा है। छोटी यात्रा के लिए साइकिल का उपयोग करनेके बहुत सारे फायदे हैं, आप सामान्य ट्रैफ़िक से बच सकते हैं, ईंधन बचा सकते हैं, कार्बन उत्सर्जन को कम करके पर्यावरण का संरक्षण कर सकते हैं और आप साइकिल चालन के अतिरिक्त स्वास्थ्य लाभों का आनंद ले सकते हैं। हमें साइकल ट्रैक बनाने होंगे और भारतीय समुदाय के भीतर साइकिल चलाने के फ़ायदोंकी जागरूकता बढ़ानी होगी|

समय और ईंधन को बचाने के लिए हमें अपने भ्रमण मार्गों की योजना बनाने की आवश्यकता है। हम गंतव्य तक पहुंचने के इष्टतम मार्ग का पता लगाने के लिए गूगल मैप्स जैसे जीपीएस एप्लिकेशन की मदद ले सकते हैं। कार का ऐसी बहोत मात्रा में ईंधन का उपभोग करता है, जब भी संभव हो तो इसे रोकें और अगर बाहर मौसम अच्छा है तो कार की खिड़कियां खोलें और ताज़ा हवा का आनंद लें। हमें गाड़ी से अनावश्यक भार निकालना चाहिए, भारी वाहन ज्यादा ईंधन खाते हैं।

हमें अपने वाहनों की नियमित रूप से देखरेख करनेकी ज़रूरत है, अच्छी हालत में वाहन कम ईंधन पीते हैं। हमें ईंधन इंजेक्शन पंप, वाहन संरेखण, टायर दबाव, इंजन संपीड़न नियमितता का ध्यान रखना चाहिए। गियर को सही गति मे बदलनेसे भी ईंधन की बचत होती है, ओवर स्पीडिंग और तत्काल ब्रेकिंग टालिये । अगर आप राजमार्गों पर हैं तो खिड़की को बंद करें, उच्च गति पर यह ड्रैग को बढ़ाता है और वाहन अधिक ईंधन जलाता है।

हम अपने फोन पर बहुत समय बिताते हैं और माता-पिता, शिक्षक सभी इसके बारे में शिकायत करते हैं। हम ईंधन संरक्षण के संदेश को प्रसारित करने के लिए उपकरणों, इंटरनेट और सोशल नेटवर्क की आसान उपलब्धता का उपयोग कर सकते हैं। हम व्हाट्सएप या फेसबुक पर छोटे समूह बना सकते हैं और ईंधन संरक्षण के विषय पर विचारों का मंथन कर सकते हैं। हम इसी तरह के विषयों पर ऑनलाइन चर्चा में भी हिस्सा ले सकते हैं।

भारतीय लोग पहले से ही माइलेज के दीवाने हैं, लेकिन नई पीढ़ी ईंधन दक्षता की तुलना में बेहतर प्रदर्शन की तलाश करती है। हमें वाहन चुनना चाहिए जो ईंधन दक्षता, प्रदर्शन और सुरक्षा का अच्छा मिश्रण हो। कार का वायुगतिकीय आकार भी बहोत मायने रखता है, इसकी कीमती ईंधन बचाने में मदद होती है।

ऐसे सभी संरक्षण उपायों के साथ, हमें जैव-ईंधन, बायोमास, भूतापीय, पनबिजली, सौर ऊर्जा, ज्वार, लहर और पवन ऊर्जा जैसे मौजूदा और नए अक्षय और वैकल्पिक ऊर्जा संसाधनों पर ध्यान केंद्रित करने, उन्हें बढ़ावा देने और अनुकूलन करने की आवश्यकता है।

हमें व्यक्तिगत और वाणिज्यिक परिवहन से परे देखने की जरूरत है और कृषि, उद्योगों और अन्य क्षेत्रों में भी ईंधन के संरक्षण के तरीके तलाशने होंगे। बहुत से किसान खेतों में पानी लाने के लिए ईंधन संचालित जल पंप का इस्तेमाल करते हैं, ईंधन लागत के मामले में किसानों के लिए बेहतर पानी या नहर प्रणाली फायदेमंद हो सकती है।

निष्कर्ष

हमें ईंधन का महत्व मालूम नहीं है| भारत में, हमें लोगों को ईंधन संरक्षण के बारे में शिक्षित करने की जरूरत है, मुख्य रूप से युवाओंको। हमारे वाणिज्यिक ड्राइवर अधिकांश निरक्षर हैं, हमें उनके लिए विशेष शिक्षा कार्यक्रमों की आवश्यकता है। यह निबंध प्रतियोगिता इस क्षेत्र में एक अच्छी पहल है, हमें इस तरह के प्रयासोंको सराहना चाहिए और इनमे बड़े चाव से भाग भी लेना चाहिए। हमे अगले पीढ़ी के लिए ईंधन बचाना पड़ेगा, नहीं तो उन्हें बड़ी कठनाइयां उठानी पड़ेगी|

Video Essay


ईंधन सरक्षण के उपाय निबंध के लिए टिप्स

  1. आपके पास कुछ अभिनव समाधान हो सकता है जो कि किसी और के बारे में नहीं सोचा। यही इस निबंध प्रतियोगिता का उद्देश्य है|
  2. यह सैंपल निबंध यहांसे या अन्य जगहों से कॉपी पेस्ट मत कीजिये, इसे पढ़िए, समझिये और अपना खुदका निबंध लिखे जिसमे आपके अनुभव, सोलूशन्स हो नहीं तो यह निबंध प्रतियोगिता संपूर्ण व्यर्थ है। इस परियोजना का लक्ष्य जागरूकता फैलाना है, ताकि आप ईंधन सरक्षण की समस्या और समाधान के बारे में सोच सकें।
  3. आप निम्न भाषाओं में यह निबंध सबमिट कर सकतें है – हिन्दी, अंग्रेजी, असमिया, बंगाली, गुजरात, कन्नड़, कश्मीरी, कोंकणी, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, उड़िया, पंजाबी, संस्कृत, सिंधी, तमिल, तेलुगू, उर्दू, मैथिली, डोगरी, नेपाली, बोडो और संथली
  4. पीसीआरए में पेंटिंग (ड्राइंग) और क्विज़ प्रतियोगिता भी है|
  5. हमेशा पीसीआरए की ऑफिसियल वेबसाइट पर सभी प्रामाणिक जानकारी, नियम और शर्तें देखें

Liked the Post? then Rate it Now!!

[Total: 1 Average: 5]

जल संरक्षण पर जबरदस्त नारे Essay Slogans on Save Water in Hindi Picture

क्या आप जल संरक्षण पर निबंध और नारे पढना चाहते हैं?
क्या आप जानते हैं जल ही हमारा जीवन है?
क्या आप जानते हैं जल हमारे लिए कितना आवश्यक है और हमें इसे क्यों संरक्षित रखना चाहिए?

चलिए जानते हैं इन प्रश्नों के उत्तर को !

जल संरक्षण पर जबरदस्त नारे और निबंध Essay Slogans on Save Water in Hindi Picture

विषय सूचि

जल संरक्षण पर निबंध Essay on Save Water in Hindi

जैसे की हम सब जानते हैं की जल हमें और अन्य सभी जीव जंतुओं को ही जीवन देता है। पानी के बिना इस पृथ्वी में जीना असंभव है। आज के दिन तक पृथ्वी ही एक मात्र ग्रह है जहाँ पानी है। हमें कभी भी पानी के महत्व को भूलना नहीं चाहिये और इसकी बचत करने के लिए जितना हो सके करना चाहिए।

पृथ्वी आ लगभग ज्यादातर हिस्सा पानी है परन्तु उसमें से पीने का पानी बहुत कम है। हमें उसी पीने के पानी का संरक्षण करना होगा नहीं तो पृथ्वी पर जीवन का अस्तित्व मिट जाएगा। पानी के बचत को एक कार्य के जैसे ना मान कर कर्त्तव्य के रूप में करना होगा।

हमें जल संरक्षण क्यों करना चाहिये Why should we Save Water in Hindi ?

इस प्रश्न का उत्तर देने से पहले हमें हमारे जीवन में पानी / जल के महत्व को सबसे पहले समझना होगा। मनुष्य ऑक्सीजन, पानी और खाना के बिना नहीं जी सकता है। इन 3 मूल्यवान चीजों में पानी का महत्व सबसे अधिक है।

प्रश्न तो यह होना चाहिए की पृथ्वी में पीने का पानी कितना है और हमें इसका संरक्षण कैसे करना होगा? आंकड़ों के अनुसार पृथ्वी में 71 प्रतिशत पानी है परन्तु उसमें से मात्र 1 प्रतिशत जल ही पीने लायक है।

अगर हम विश्व की पूरी जनसँख्या के साथ पीने के पानी का अनुपात निकालें तो पता चलता है 1 गैलन पानी का उपयोग प्रतिदिन 1 अरब लोग कर रहे हैं। यह भी अनुमान लगाया जा चूका है कि 3 अरब से भी ज्यादा लोग 2025 तक पानी की कमी से पीड़ित होंगे।

हाला की लोगों को थोडा-थोडा पानी का महत्व समझने आने लगा है परन्तु अभी मनुष्य ने पूरी तरीके से पानी को संरक्षित रखना नहीं सिखा है। जल का संरक्षण आज से ही लोगों को करना शुरू करना होगा क्योंकि ऐसे ही पानी बर्बाद होता रहा तो वो दिन दूर नहीं है जब दुनिया में पानी की समस्या सर पर होगी।

कुछ वर्षों पहले पानी को कोई नहीं बेचता था पर आज अगर आप देखेंगे तो कई कंपनियों ने इसको बेचना शुरू कर दिया। क्योंकि सभी जगह स्वच्छ पानी उपलब्ध नहीं है इसलिए पानी लोग खरीद कर पीते हैं। आज एक पानी के 1 लीटर बोतल का दाम 20-25 रुपए हो चूका है। अगर जल संरक्षण और जल को स्वच्छ नहीं रखा जायेगा तो वो दिन दूर नहीं जब 1 लीटर बोतल को 100-200 रुपए दे कर खरीदना पड़े।

आखिर जल का स्वच्छ होना क्यों आवश्यक है और यह मूल्यवान क्यों है?
  • कई लाख लोग प्रतिवर्ष जल के दूषित होने के कारण बिमारियों से मर रहे हैं।
  • अखबार के एक पेज को बनाने में 13 लीटर पानी बर्बाद होता है तो सोचिये पुरे विश्व में कितना होता होगा।
  • हर 15 सेकंड में एक बच्चा जलजनित रोग से मर रहा है।

जल संरक्षण कैसे करें Ways to Save Water in Hindi ?

पानी की बचत / जल संरक्षण के लिए कुछ ज़बरदस्त टिप्स या आईडिया हैं –

  • सबसे पहले तो हम सभी को मिल कर कसम खाना होगा की आज से हम पानी को बर्बाद नहीं करेंगे और जितना हो सके उतना जल संरक्षण करेंगे।
  • अगर पुरे पृथ्वी में सभी लोग थोडा थोडा पानी भी बचायेंगे इसे फालतू का नहीं बहायेंगे तो सोचिये कितना पानी हम एक दिन में संरक्षित कर सकते हैं।
  • हम चाहें तो बारिश के पानी को शौच, कपडे धोने, बगीचे में पानी देने, और नहाने के लिए भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • हमें स्वच्छ पीने के पानी को शौचालय और नहाने में बर्बाद नहीं करना चाहिए क्योंकि ऐसा करने के कारन धीरे-धीरे जल स्थर कम होते जा रहा है।
  • हम बारिश के पानी का संग्रहण भी कर सकते है जिसको हम पीने और खाने के अलावा सभी प्रकार के काम में लगा सकते हैं।
  • अगर हम नहाते समय शावर की जगह नहाने के लिए बाल्टी का उपयोग करें तो हम 100-200 लीटर पानी प्रतिदिन बचा सकते हैं।
  • नल के इस्तेमाल के बाद उसे टाइट से बंद करें क्योंकि पानी गिरते रहने से बहुत बर्बाद हो जाता है और हमें पता भी नहीं चलता।
  • हमें अपने गाँव, मोहल्ले और शहर में जल संरक्षण पर नारों के साथ लोगों को पानी को बचाने के फायदों के बारे में बताना चाहिए।
  • ज्यादातर पेड़-पौधे बारिश के महीने में लगायें ताकि पौधों को प्राकृतिक रूप से पानी मिल सके।
  • हमें हाँथ, फल सब्जियों को दोने के लिए मग में पानी लेना चाहिए क्योंकि नल से दोने पर बहुत पानी बर्बाद हो जाता है।

20 नए ज़बरदस्त : जल संरक्षण पर नारे और पोस्टर New 2017 Best Slogans on Save Water in Hindi with Picture

  1. बूंद-बूंद नहीं बरतेंगे, तो बूँद-बूँद को तरसेंगे।
  2. जल है तो कल है, यह हमारे लिए कुदरत की देन है।
  3. हाथ से हाथ मिलाना है पानी को बचाना है।
  4. जल है जीवन का अनमोल रतन, इसे बचाने का करो जतन।
  5. जल ही जीवन है।
  6. जल हमारे लिए सोना है, इसे कभी नहीं खोना है।

  7. बारिश के पानी को बचाना है, घरेलु कामों में लगाना है।
  8. जल संरक्षण की लायें सोच, नहीं तो पानी के लिए तरसेंगे रोज़।
  9. पानी को माने अनमोल, क्योंकि यही है जीवन का असली मोल।
  10. लाल पीला हरा नीला, इस होली खेलेंगे रंग ना हो कर गीला।
  11. आओ सब मिल कर कसम खाएं, बूँद-बूँद पानी को बचाएं।
  12. चलो हम हम सब मिल कर संकल्प लें, पानी को नीचे ना बहने दें।
  13. नल से टिप-टिप पानी गिरने ना दें, पानी को बर्बाद होने ना दें।
  14. अगर करना है हमारे भविष्य को सुरक्षित, करना होगा बूँद-बूंग पानी को संरक्षित।
  15. स्वस्थ जीवन की अगर कर रहे हो खोज, बचाओ पानी रोज़।
  16. ना करो पानी को हर समय नष्ट, सहना पड़ेगा जीवन भर इसका कष्ट।
  17. पानी बिना जीवन नहीं, इसका संरक्षण हमारे लिए बोझ नहीं।
  18. दूषित ना करो जल को, नष्ट ना करों आने वाले कल को।
  19. जल को बचाने के लिए दृढ संकल्प लेना है – पानी बचाओ जीवन बचाओ का नारा फैलाना है।
  20. जल संरक्षण को हमें आज ही अपनाना है, अपने आने वाले कल को पानी की कमी से बचाना है।

आशा करते हैं आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा होगा। हमारे पोस्ट और जल संरक्षण के नारे को आगे बढाने के लिए इस पोस्ट को अपने सोशल नेटवर्क वेबसाइट पर शेयर करना ना भूलें।

One thought on “Urja Bachao Essay In Hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *